जांच कमिटि की रिपोर्ट में खुलासा, पूर्व प्रबंधक की सांठगांठ से हुआ लाखों का खेला

रांची (मुकेश भारतीय) । स्वर्णरेखा जल विद्दुत परियोजना के उत्पादन ईकाई-2 के अनाधिकार प्रवेश वर्जित क्षेत्र में लोखों के बोल्डर पीचिंग के खेल का खुलासा हो गया है। सोमवार की दोपहर रांची जिला बीस सूत्री उपाध्यक्ष जलेन्द्र कुमार को संवेदक शेख अनवर के मामले को लेकर गठित सात सदस्यीय कमिटि के अध्यक्ष बालक पाहन ने अपनी जांच रिपोर्ट सौंपी।

रिपोर्ट से स्पष्ट है कि परियोजना के पूर्व प्रबंधक वसीरुद्दीन अंसारी की साठगांठ से संवेजक ने करीब 17 लाख के कार्य मौखिक आदेश के तहत कार्य किया था। संवेदक ने पहले भी  मौखिक आदेश के तहत कार्य कराया है और उसका बाद में भुगतान हुआ है। बोल्डर पीचिंग के मामले में भी यही हुआ है। संवेदक को पहले उस स्थान पर झाड़ी कटाई का काम दिया गया और फिर उसी स्थान पर मौखिक आदेश पर बोल्डर पीचिंग का काम कराया गया। जिसका भुगतान पूर्व प्रबंधक के सेवानिवृत हो जाने एवं वर्तमान प्रबंधक के नियम के विरुद्ध कार्य कहे जाने से अटक गया। कमिटि को निर्धारित चार बिन्दुओं पर अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करनी थी।

प्रथम, सिकीदिरी पावर हाउस में बोल्डर पींचीग का काम हुआ है कि नहीं ?  

इस प्रश्नगत के संदर्भ में समिति के सदस्यों की पड़ताल में प्रमाणित हुआ है कि वहां संवेदक के कथनानुसार कालावधि में व्यापक पैमाने पर बोल्डर पीचिंग के कार्य हुये हैं।

दूसरा, जो कार्य हुआ है, उसे किसने कराया है ?

इस प्रश्नगत सबाल को लेकर समिति के सदस्यों ने गहन पड़ताल की। इस संदर्भ में जिस किसी से भी जानकारी ली गई, उसने कार्य कराने की पुष्टि के साथ संवेदक शेख अनवर का नाम लिया। किसी अन्य एक व्यक्ति ने यह दावा नहीं किया कि कार्य उसने नहीं अपितु, बल्कि किसी दूसरे ने कराया है। समिति शेख अनवर द्वारा कार्य कराने की सप्रमाण पुष्टि करती है।

तीसरा,  इसका कार्यादेश प्राप्त हुआ था कि नहीं ?

इस प्रश्नगत की पड़ताल के बाद समति के सदस्यों ने पाया कि सिकिदिरी जल विद्युत परियोना के विद्युत घर दो के अनाधिकार प्रवेश वर्जित क्षेत्र में संवेदक शेख अनवर द्वारा कराये गये बोल्डर पीचिंग के कार्य का कोई लिखित कार्यादेश प्राप्त नहीं था। लेकिन यहां मौखिक आदेश के तहत ही काम होते रहे थे।

बकौल शेख अनवर, पूर्व परियोजना प्रबंधक वसीरुद्दीन अंसारी के मौखिक आदेश से झाड़ी कटाई का काम किया था, जिसका भुगतान बाद में किया गया। उसी काम को बढ़ाते हुए परियोजना प्रबंधक वसीरुद्दीन अंसारी के मौखिक आदेश से हीं उस स्थान पर बोल्डर पीचिंग का काम करने लगा। काम करने वाले मजदूरों, प्रत्यक्षदर्शियों आदि से पता चला कि बोल्डर पीचिंग का काम शेख अनवर द्वारा जब किया जा रहा था, उस समय विभागीय अभियंता लोग आकर नापी-जोखी करने के साथ अन्य दिशा निर्देश दिया करते थे। कार्यस्थल पर कई बार पूर्व प्रबंधक वसीरुद्दीन अंसारी भी मुआयना करते और निर्देश  देते पाये गये थे।

इधर जब जांच कमिटि ने वर्तमान प्रबंधक अमर नायक द्वारा नामित समिति के सदस्य कार्यपालक अभियंता सुब्रत कुमार पंडा और कनीय अभियंता आलोक कुमार सुमन द्वारा अपेक्षित सहयोग नहीं किये। एक ओर ये दोनों कार्यस्थल पर गये और कार्य को सही पाकर खड़े होकर नापी कराई, वहीं दूसरी ओर दोनों ने यह कहकर अपना पल्ला झाड़ते रहे कि उन्हें प्रबंधक कौन होते हैं किसी जांच कमिटि के सदस्य बनाने वाले। वे बोर्ड की नौकरी करते हैं। अगर बोर्ड उन्हें कहेगी तो वे कमिटि को मानेगें।

चतुर्थ, कार्य हुआ है तो इससे संबंधित पक्ष की संपुष्टि प्रस्तुत करें ?

इस प्रश्नगत जांच के आलोक में संवेदक शेख अनवर की ओर से  कुल 14,43,760 ( चौदह लाख तेतालीस हजार सात सौ साठ) रुपये का मूल खर्च वाउचर के साथ कुल 15,88,136 रुपये का दावा स कागजात जांच समिति को सौंपे गये हैं। इस खर्च विवरण में संवेदक ने तात्कालीन साइड इंचार्य अभियंता संतोष कुमार द्वारा प्राक्कलन तैयार करने के मद में 1,80,000 ( एक लाख अस्सी हजार) रुपये की अतिरिक्त राशि भा देय है। इस बिल विपत्र के साथ संवेदक द्वारा प्रस्तुत प्रमाण भी संलग्न किये गये हैं।

उपरोक्त चारो बिन्दुओं के आलोक में कमिटि ने बीस सूत्री उपाध्यक्ष जलेन्द्र कुमार से  संवेदक द्वारा कराये गये कार्य का अबिलंब भुगतान एवं दोषी अधिकारियों के खिलाफ त्वरित कार्रवाई करने की अनुशंसा अग्रसरित करने की मांग की है।

उल्लेखनीय है कि परियोजना के 2 नंबर प्लांट क्षेत्र में 17 लाख के कार्य कराये जाने को लेकर परियोजना कार्यालय के सामने संवेदक शेख अनवर ने सपरिवार आमरण अनशन  के साथ कभी भी आत्म दाह कर लेने की घोषणा कर डाली थी। जिसे जिला बीस सूक्षी उपाध्यक्ष ने एक अल्पसंखयक परिवार की जान की चिंता को लेकर वर्तमान प्रबंधक अमर नायक से बात की औऱ आपसी समझौता के तहत एक सात सदस्यीय समिति का गठन कर दोनों संयुक्त रुप से 30 दिनों के भीकर नयाय होने का आश्वाश्न देकर अनशन तुड़वाया था।

इस समिति में ओरमांझी प्रखंड बीस सूत्री अध्यक्ष बालक पाहन के आलावे परियोजना के कार्यपालक अभियंता सुब्रत कुमार पंडा, कनीय अभियंता आलोक कुमार सुमन, समाजसेवी पत्रकार मुकेश भारतीय, संवेदक राजकुमार, जिला बीस सूत्री सद्स्य शंकर बैठा एवं समाजसेवी सिकंदर बेदिया शामिल थे। उपरोक्त सभी सदस्यों ने अपनी कड़ी मेहनत भरी पड़ताल से अंततः दूध का दूध और पानी का पानी करने में सफल रहे।

Related News:

नालंदा के गिरियक में शिक्षकों का पांचवें दिन भी तालाबंदी जारी
2 किसानों को सांप ने काटा, एक की मौत, दूसरे की हालत गंभीर
नहीं रहे रांची के पूर्व SSP-DIG प्रवीण कुमार सिंह, दिल्ली के मैक्स में ली अंतिम सांस
भगवान बिरसा जैविक उद्दान में लूट का आलमः खा गए मछली, डकार लिए घर
चिटफंड कंपनी मे फंसे गरीब पीड़ितों की लड़ाई लड़ेगी झामुमो: अंतु तिर्की
विधानसभा में उठा नगरनौसा थाना हाजत में जदयू नेता की मौत का मामला, बोली सरकार- नहीं बचेंगे दोषी
हिसुआ थाना का वाहन यूं घूम रहा मलमास मेला, नवादा एसपी बोले- होगी जांच कार्रवाई
सड़क हादसे में बाल-बाल बचे डीजीपी गुप्तेश्वर पाण्डेय
सीएम ने महोत्सव में किया था इस शौचालय का उद्घाटन, अफसरों ने 24 घंटे बाद ही लटका दिया ताला
मगही पान किसानों पर फिर गिरी आंधी-ओलावृष्टि की गाज
पटना आईजी का बड़ा एक्शनः 839 पुलिस इंस्पेक्टर, सब-इंस्पेक्टर,जमादार का रेंज ट्रांसफर
शहरी प्रवासी महिलाएं को न बनायें पोषण सखीः उपायुक्त
कुशासन-भ्रष्टाचार के खिलाफ लोगों की एकजुटता जदयू प्रत्याशी की बड़ी मुसीबत
डीएम ने शौचालय की सफाई कर बच्चों को नहलाया, हो रही खूब चर्चा
PM मोदी से यूं मिले CM हेमंत, मांगी खनिज की रॉयल्टी, बनेगा आदिवासी विश्वविद्यालय
हाई कोर्ट की दो टूक-  ‘माता-पिता-बहन को भी है अनुकंपा पर नौकरी पाने के हक’
मोदी ने गिरियक में भी निकाली लालू पर अपनी भड़ास
इस्लामपुर में मुस्लिम समुदाय के 250 लोग हुए भाजपा में शामिल
बिहार सरकार शहीदों के आश्रितों को देगी अब 36 लाख रुपये
RU के उच्च एवं तकनीकी शिक्षा तथा कौशल विभाग में रोजगार मेला आयोजित
राजगीर मलमास मेला को राजकीय दर्जा दिलाने के लिए साधु-संतों का शंखनाद
झारखंड गवर्नर ने 24 मई को ही लौटाया था सीएनटी-एसपीटी एक्ट संशोधन बिल
पटना में अब तक की सबसे बड़ी लूट, पंचवटी रत्नालय से दिनदहाड़े 4 करोड़ के गहने लूटे
नगरनौसा जेई की पिटाई और ग्रमीणों के आरोप के बीच नालंदा में कड़वा सच है यह
अब सिलाव थाना के एक ASI की ऐसी 'गुंडागर्दी' का ऑडियो आया सामने
भाजपा सरकार ने अपने 'शत्रु' को किया यूँ खामोश !
डाक्टर की जगह कम्पाउडंर कर रहा था इलाज, मौत के बाद फेंका शव, मचा बबाल
एक्सपर्ट मीडिया की खबर का असर, वन विभाग ने संभाला मोर्चा
EVM से छेड़छाड़ के मामले पर SC का केंद्र और EC को नोटिस
..और लोटा ले बीडीओ के सामने यूं बैठ गए लोग, अनूठा धरना-प्रदर्शन  
अब सीएम नीतीश भी चले पीएम मोदी की इस राह
हिलसा दरगाह मुहल्ला के इफ्तार में बोेले पप्पु-लालू का दलित प्रेम छलावा
प्रायवेट स्कूल की छत से गिरी छात्रा, रीढ़ की हड्डी टूटी, स्कूल नहीं ले रहा सुध
घुस गिनते निगरानी के हत्थे चढ़ा मनरेगा का पीओ
नालंदा में प्रेस रिपोर्टर बने अनेक नियोजित मास्टर, क्या बेखबर है प्रशासन?
नव नालंदा महाविहार प्रबंधन के इस गैर जिम्मेदाराना रवैये से उबले छात्र
अनंत सिंह के कट्टर पड़ोसी दुश्मन के घर का ही निकला AK 47 वायरल वीडियो
देखिये नालंदा में भारतीय निर्वाचन आयोग को भी कैसे मजाक बना डाला
अब बिहार शरीफ नगर निगम की सियासत में भी हॉर्स ट्रेडिंग का बाजार गर्म
आंगनबाड़ी सेविकाओं-सहायिकाओं के मानदेय में बढ़ोतरी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...