जरासंध की नगरी राजगीर में विराट शोभायात्रा, धरोहर बचाने की गुहार

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क। अखिल भारतीय जरासंध अखाड़ा परिषद एवं डोली यूनियन राजगीर के द्वारा निकाली गई विराट शोभायात्रा के माध्यम से श्रद्धालुओं ने जरासंध से जुड़े ऐतिहासिक धरोहरों,इतिहास को बचाने की गुहार बिहार सरकार और केंद्र सरकार से लगाई।

शोभा यात्रा जरासंध स्मारक स्थल से राजगीर बाजार धर्मशाला रोड ,बस स्टैंड होते हुए हसनपुर तालाब में सारी प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया। कार्यक्रम में बिहार, झारखंड सहित अन्य राज्यों के जरासंध के अनुयायी शामिल हुए।

वहीं नालन्दा सहित अन्य जिलों से लोग भी प्रतिमा के साथ पारम्परिक भजन कीर्तन, झाल, ढोल, नगाड़े के साथ शिरकत किये जिसमे महिला, बच्चे भी सम्मिलित हुए।

विराट शोभायात्रा में शामिल हुए बिहार सरकार के पूर्व मंत्री डॉ भीम सिंह ने कहा कि समाज को एकजुट होकर ही जरासंध के ऐतिहासिक अस्तित्व की रक्षा की जा सकती है। राजगीर की प्राचीन नगरी में धरोहरों का उपेक्षित होना चिंतनीय है।

पूर्व मंत्री ने कहा कि सरकार से जरासंध से जुड़े ऐतिहासिक धरोहरों के विकास  की मांग रखेंगे।

अखाड़ा परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष मिलन सिंह एवं राष्ट्रीय महासचिव श्याम किशोर भारती ने पूरे बिहार झारखण्ड से आए हज़ारों अनुयायियों के प्रति हार्दिक आभार व्यक्त किया और ऐतिहासिक धरोहरों की रक्षा संकल्प के साथ आगाज़ को अंजाम तक पहुंचाने  का निर्णय लिया गया। अखाड़ा परिषद के प्रतिनिधिमंडल मुख्यमंत्री सहित केंद्रीय नेताओं से मिलकर विकास की बात रखेंगे।

वहीं विराट शोभायात्रा में राजगीर में निर्माणधीन स्टेडियम एवं जू सफारी का नाम जरासंध के नाम से करने की मांग की साथ ही राजगीर में आदमकद जरासंध की प्रतिमा लगाने के लिये भी लोग सरकार को अवगत कराएंगे।

कार्यक्रम में धन्यवाद ज्ञापन डोली यूनियन अध्यक्ष बुलबुल चन्द्रवंशी ने दिया। विराट शोभायात्रा में नालन्दा, नवादा, पटना, गया,शेखपुरा, बांका, मोतिहारी, जहानाबाद सहित अन्य जिलों से हज़ारो की संख्या में लोग शामिल हुए।

जरांसध की प्रतिमा के साथ निकाली गई शोभायात्रा राजगीर बाजार, धर्मशाला, रोड, मेन रोड से होते हुए हसनपुर तालाब के पास समाप्त हुआ।

इस अवसर पर अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष मिलन सिंह,राष्ट्रीय महासचिव श्याम किशोर भारती, डोली यूनियन अध्यक्ष  बुलबुल चन्द्रवंशी ,शशिभूषण सिंह चन्द्रवंशी,नन्दलाल चन्द्रवंशी, शैलेश कुमार, नागेंद्र नाथ सिन्हा, भागवत प्रसाद, विश्वजीत चन्द्रवंशी, राजहंस बबलू, संतोष भारती, धर्मेंद्र वर्मा, रवि कुमार, निशांत कुमार,चुन्नू चन्द्रवंशी,सुनील चन्द्रवंशी,लालो प्रसाद,वीरू चन्द्रवंशी, देवदत्त प्रसाद, अनन्त वर्मा,चंदन चन्द्रवंशी,अजय कुमार, डॉ सुबोध, लवकुश, नवादा नगर परिषद अध्यक्ष प्रतिनिधि रवि चन्द्रवंशी, अरुण मुखिया, नागेंद्र मुखिया, रंजीत चन्द्रवंशी,शिवशंकर प्रसाद सहित हज़ारो की संख्या में विभिन्न जिलों से आये लोग शामिल थे।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.