जमीन पर काम करने गए लोगों पर उपद्रवी हमला

Share Button

-संवाददाता-

रांची। ओरमांझी थाना के हुटुप गांव में अपनी जमीन पर काम कराने पहुंचे चुटिया निवासी बीना देवी के लोगों पर पर हरवे हथियार से लैश उपद्रवियों ने अचानक हमला कर दिया। इस हमले में आधा दर्जन लो घायल हो गए। जिसमें कडरु निवासी हसन अंसारी की हालत गंभीर है। उनका ईलाज मेदांता के आईसीयू में चल रहा है। घायलों में रेणु सिंह, चिंटू सिंह, नवीन सिंह, मो. आजाद अंसारी, नेहा सिंह आदि शामिल हैं।

घटना के बारे में बताया जाता है कि वर्ष 2005 में हुटुप निवासी जगनु-मगनु महतो ने चुटिया रांची निवासी बीना देवी को 80 डीसमिल जमीन बेची थी। इस जमीन की रजिस्ट्री और म्यूटेशन तब ही हो चुका था। गुरुवार की सुबह करीब दस बजे जैसे ही जमीन मालिक के लोग जेसीबी मशीन लेकर काम करने पहुंचे कि किसी पिंटू नामक युवक के नेतृत्व में परंपरागत हथियारों से उपद्रवियों ने अचानक हमला बोल दिया और मार पीट शुरु कर दिया। इसकी फौरिक शिकायत मिलते ही ओरमांझी थाना पुलिस की टीम घटनास्थल पर पहुंची और उपद्रवियों की टीम का नेतृत्व कर रही आशा देवी और अनीता देवी नामक दो महिला को गिरफ्तार कर लिया। बाकी लोग फरार हो गए। पुलिस उन लोगों की सरगर्मी से तलाश कर रही है।

इस संदर्भ में पांच नामजद एवं अन्य अज्ञात आठ-दस महिलाओं के खिलाफ शिकायत दर्ज की गई है। नामजद अभियुक्तों में हरिलाल महतो, पिंटू महतो, अनीता देवी, आशा देवी, आकाश महतो शामिल हैं।

हुटूप गांव पहंचने पर वहां काफी सुनसान नजारा था। गांव में मौजूद बच्चे और महिलाएं कुछ भी नहीं बता रहे थे। गांव में एक भी पुरुष नहीं मिले। सब पुलिसिया कार्रवाई के भय से गायब दिखे। देर शाम महिलाओं का एक झुंड ओरमांझी थाना पहुंची। लेकिन वे लोग थाना क्यों आई है, थाना प्रभारी को कुछ भी समझा न सकी।

thana prabhhari suman kumar smanउपद्रवियों को बख्शा नहीं जाएगा

“ जमीन बी. प्रधान की है। जमीन उन्हें जिसने बेची है, वे बेचने से इंकार कर रहे हैं। लेकिन जमीन के सारे कागजात बी. प्रधान के नाम से है। इस तरह के उपद्रवी हमले के दोषियों के खिलाफ पुलिस कड़ी कार्रवाई करेगी। किसी के भी नहीं बख्शा जायेगा। हमले में एक की हालत गंभीर है और बकी को मामूटी चोटें आई है।

……….सुमन कुमार सुमन, थाना प्रभारी, ओरमांझी।

neha singhपुलिस प्रशासन पर पूरा भरोसा है

 “  जमीन मालिक को लालच हो गई है। वह रंगदारी की मांग कर रहा है। नहीं देने पर आज सुनियोजित ढंग से असमाजिक तत्वों को भड़का कर हमला कर दिया। हमारे लोगों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा। अगर समय पर पुलिस नहीं आती तो कई लोग मारे जाते। इसके पहले भी बाहरी उपद्रवियों के सहारे गुंडागर्दी की गई है। लोग जेल भी गए हैं। उपद्रवी चाहते हैं कि हम उनके भय से जमीन छोड़ कर भाग जाएं। मुझे पुलिस प्रशासन पर पूरा भरोसा है।“

………..नेहा सिंह, जमीन मालिक के करीबी।

Share Button

Related News:

समान वेतन और समान सेवा शर्त की मांग को लेकर नियोजित शिक्षकों ने फूंका बिगुल
रेलवे की बड़ी लापरवाही, खुली रही फाटक और यूं धड़धड़ाती गुजर गई ट्रेन!
बस-तांगा की टक्कर में 1 बच्चा और 6 महिलाएं जख्मी, पर्यटन मित्र पुलिस को धन्यवाद
एक साल से पड़ा है 40 करोड़, एक भी विश्वविद्यालय नहीं बन सका वाई-फाई कैंपस
हिलसा में राजद के बंद के दौरान हुल्लड़बाजी, मार-पीट कर दुकानदार का सर फोड़ा
राजगीर महोत्सव के नाम पर देखिये प्रशासनिक वेशर्मी की हद
ठेकेदारी नाम पर रंगदारी वसूलने के विरोध में सिलाव बाईपास जाम
हिलसा अधिवक्ता लिपिक संघ के सभी सीटों पर सीधी टक्कर
कोल स्कैम में मधु कोड़ा समेत 4 दोषी, अदालत कल देगी सज़ा
नानंद हत्याकांड का आरोपी बबलू पासवान का नालंदा ASP समक्ष सरेंडर
साक्ष्य के अभाव में CBI कोर्ट से कुख्यात नक्सली कुदंन पाहन रिहा!
हिलसा प्रखंड-उपप्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव खारिज, कुर्सी बरकरार
बालू माफियाओं के खिलाफ रात भर चली छापामारी में धराये दो ट्रैक्टर
भू-माफियाओं के हाथ का यूं खिलौना बने नालंदा जिला परिषद अभियंता !
डुमरिया चुंबन प्रतियोगिता को लेकर झारखंड में हंगामा
राहुल गांधी ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ. अजय कुमार का इस्तीफा ठुकराया, लिखा मार्मिक चिठ्ठी
गैंस एजेंसी संचालक हत्या कांड का यूं हुआ खुलासा, भांजा के साथ सहयोगी धराया
पत्रकार-उत्पीड़न की एकतरफा जांच कर लौट रहे SP-DSP के काफिले को ग्रामीणों ने रोका
एक्सपर्ट मीडिया के सवालों पर यूं मिमियाए सीएम के ओएसडी IFS गोपाल सिंह
फेसबुक पोस्ट को लेकर जमकर बवाल, धारा 144 लागू

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

loading...
Loading...