छठ महापर्व की सुगमता और सजगता को लेकर मुकम्मल तैयारी के निर्देश

Share Button

“जिला प्रशासन ने छठ व्रतियों एवं श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए कुछ दिशानिर्देश जारी किए हैं । लोगों से अनुरोध किया गया है कि तैनात मजिस्ट्रेट एवं पुलिस पदाधिकारियों के दिशा निर्देशों का पालन करें। निर्धारित मार्ग पर ही चलें और अपनी गाड़ियां निर्धारित पार्किंग स्थलों पर ही लगाएं।”

बिहारशरीफ (राजीव रंजन)। छठ पर्व के अवसर पर पूरे जिले में सुगम आवाजाही सुनिश्चित करने का निर्देश तीनों अनुमंडल के एसडीओ एवं एसडीपीओ को दिया गया है। थाना प्रभारियों को भी पूरी सजगता से ट्रैफिक  को सुचारु रखने को कहा गया है । डीएम डॉ त्यागराजन एस एम एवं पुलिस अधीक्षक सुधीर कुमार पोरीका ने औंगारी, बड़गांव सहित अन्य बड़े छठ घाटों के क्षेत्र में आवागमन की विशेष व्यवस्था करने एवं उस पर सतत नजर रखने को कहा है।

प्रसिद्ध छठ पूजा स्थल बड़गांव के आसपास ट्रैफिक व्यवस्था सुचारु रखने के लिए निम्नवत दिशा निर्देश जारी किए गए हैं

बिहारशरीफ-राजगीर मुख्य मार्ग से कुंडलपुर जाने वाली सड़क में सांस्कृतिक गांव के लिए अर्जित खाली जमीन में पार्किंग की व्यवस्था की गई है। उक्त पार्किंग स्थल के  भर जाने के बाद कुंडलपुर महोत्सव के लिए चिन्हित स्थल में वाहनों की पार्किंग की जानी है।

बिहार शरीफ परवलपुर मुख्य पथ से बेगमपुर होते हुए बड़गांव जाने वाले रास्ते में वाहनों का परिचालन बंद रहेगा। बिहार शरीफ परवलपुर पथ की ओर से आने वाले वाहनों को बिहार शरीफ से राजगीर पथ से होकर बड़गांव की ओर जाना होगा । इसके लिए बेगमपुर के पास कुंडलपुर बड़गांव जाने वाले रास्ते में बैरिकेटिंग  किया गया है।

बिहार शरीफ -राजगीर मुख्य मार्ग से नालंदा मोड़ से खंडहर होते हुए बड़गांव जाने के रास्ते में आर बी उच्च विद्यालय के पास बैरिकेटिंग की गयी है। वाहनों की पार्किंग उच्च विद्यालय के मैदान में किया जाएगा। उससे आगे हुएनत्सांग मेमोरियल के पास भी बैरिकेटिंग रहेगी। ह्वेनसांग मेमोरियल जाने के रास्ते में भी वाहनों की पार्किंग की जा सकेगी।

औंगारी छठ घाट क्षेत्र में भी वाहनों की पार्किंग एवं यतायात निर्धारण का निर्देश  हिलसा के एसडीओ एवं एसडीपीओ  को दिया गया है। इसके अलावा जिला में जितने भी छठ घाट हैं वहां  भी यातायात व्यवस्था सुव्यवस्थित रखने के लिए मजिस्ट्रेटों एवं पुलिस पदाधिकारियों को खास तौर से हिदायत दी गई है। जिला एवं छठ घाटों पर स्थापित नियंत्रण कक्ष को भी निर्देश दिया है गया है कि वह पूरे छठ पर्व के सभी गतिविधि एवं यातायात व्यवस्था पर भी नजर रखें एवं आवश्यक कार्रवाई करें।

छठ पूजा में भाग लेने वाले छठ व्रतियों एवं श्रद्धालुओं को किसी तरह की परेशानी नहीं हो इसके लिए जिला प्रशासन द्वारा सभी स्तरों पर प्रबंध किए जा रहे हैं।  सभी महत्वपूर्ण स्थानों पर मजिस्ट्रेट , पुलिस पदाधिकारी एवं काफी संख्या में पुलिस वालों की भी प्रतिनियुक्ति की गई है।  घाट एवम मार्गों में साफ-सफाई, बिजली एवं पेयजल सुविधाएं भी बहाल करने की कार्यवाही हो रही है। छठ व्रतियों की सुविधा के लिए सभी घाटों की बैरिकेटिंग की गई है एवं वहां खतरे के निशान भी लगाए जा रहे हैं।

जिला प्रशासन ने छठ व्रतियों एवं श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए कुछ दिशानिर्देश जारी किए हैं । लोगों से अनुरोध किया गया है कि तैनात मजिस्ट्रेट एवं पुलिस पदाधिकारियों के दिशा निर्देशों का पालन करें। निर्धारित मार्ग पर ही चलें और अपनी गाड़ियां निर्धारित पार्किंग स्थलों पर ही लगाएं।

 महिला बुजुर्ग एवं बच्चे अपने पास घर का पता एवं फोन नंबर अवश्य रखें

 छठ पर्व के दौरान घाटों पर सफाई का विशेष ध्यान रखें।

 घाटों पर पटाखे फोड़ना व आतिशबाजी पूर्णतया प्रतिबंधित है ।

किसी प्रकार की समस्या होने पर प्रतिनियुक्त पुलिस पदाधिकारी एवं मजिस्ट्रेट से ही संपर्क करें अगर जरुरत पड़े तो  कंट्रोल रूम के नंबरों पर भी बात करें ।

पदाधिकारियों एवं कंट्रोल रूम के नंबर सभी घाटों पर प्रदर्शित किए गए हैं

प्रशासन द्वारा बनाए गए बैरीकेटिंग को पार ना करें और खतरनाक के घाटों या गहरे पानी में ना जाएं।

 अफवाह ना फैलाएं एवं किसी प्रकार की अफवाह पर ध्यान भी ना दें।

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...