चौपारण बस हादसे के 11 मृतकों में 10 की हुई पहचान, 28 जख्मी ईलाजरत

Share Button

हजारीबाग/ गया (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। हजारीबाग जिले के चौपारण में दनुआ घाटी के हुए एक बस- ट्रक के टक्कर हादसे में बस में सवार मारे गए 11 यात्रियों में से 10 की पहचान हो गई है। सभी मृतकों के शवों का पोस्टमार्टम हजारीबाग अस्पताल में कराया जा रहा है।

सोमवार को अहले सुबह हुई इस गंभीर दुर्घटना के बाद हजारीबाग के वरीय प्रशासनिक अधिकारी वन विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक कर रहें है ताकि भविष्य में इस तरह की घटनाओं की पुनरावृति नहीं हो सके।

गौरतलब है कि गुमला से वाया गया होते हुए मसौढ़ी जाने वाली महारानी कंपनी की बस छड़ लदे रोड पर खराब हुए ट्रक से टकरा गई। हादसा इतना गंभीर था कि बस के आगे से परचक्के उड़ गए। इस गंभीर हादसे में 11 लोगों की मौत हो गई जिसमें दो महिलाएं भी शामिल हैं। एक मृतक की पहचान अभी नहीं हुई है।

गया में रहने वाले महरानी बस के मालिक मुन्ना सिंह ने इस गंभीर हादसे पर गहरा दुख जताते हुए मृतको के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त की है।

उन्होंने बताया कि जो उन्हें सूचना मिली उसके अनुसार चढ़ाई और उतार वाले घाटी में उनके बस का अचानक ब्रेक फेल हो गया। चूकि ब्रेक फेल होते समय बस ढलान वाली सड़क पर थी, इसलिए चालक बस पर अपना नियंत्रण नहीं रख सका और बस आगे खड़े ट्रक के पिछले भाग से जा टकराई।

इस हादसे में बस पर सवार बस के एक कर्मचारी की भी मौत हो गई। हजारीबाग अस्पताल में शवों का पोस्टमार्टम करा रहे चौपारण थाना के एसआई सुबोध कुमार के अनुसार मृतकों में 1- ज्ञानेश्वर प्रसाद, पुत्र-मिथिलेश्वर, झीलगंज, नई गोदाम गया 2-योगेन्द्र शर्मा पुत्र स्व. रामाशीष शर्मा, साकिन-बाघी, थाना परसबीघा, जहानाबाद 3- उपेन्द्र कुमार, पुत्र-चिरंगी लाल कोतवाली,गया 4- शिवशंकर प्रसाद, पुत्र रामबली प्रसाद, शांति नगर, रातू रांची 5- दशरथी देवी पत्नी-लुथड़ी कुंडा, 94 खड़का, गुमला 6- आदित्य राय, पुत्र उपेन्द्र कुमार कोतवाली, गया 7- इगनाईश गिद्धा पुत्र  रिचासनुज गिद्धा , सकरडीहथाना- नेतरहाट, लातेहार 8-भारती देवी पत्नी- रामकृष्ण प्रसाद रांची 9-संजय कुमार पुत्र-चंद्रभान सिंह, पंजाबी कॉलोनी, गया 10- रामचंद्र पासवान पुत्र बिन्देश्वर पासवान नंदबीघा, बेलागंज, गया का नाम शामिल है। जबकि एक मृतक की शिनाख्त अभी नहीं हो सकी है।

इधर चौपारण थाना के एसएचओ नीतीन सिंह ने बताया कि दुर्घटनाग्रस्त बस के कागजातों और परमीट की भी छानबीन की जा रही है। अगर कागजात वैध नहीं पाए गए तो जिम्मेवार लोगों पर भी प्राथमिकी दर्ज की जाएगी।

इधर इस घटना पर झारखंड के मुख्यमंत्री रघुबर दास व बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी गहरा दुख जताते हुए सभी मृतकों के प्रति अपनी संवेदना प्रकट की है।

Share Button

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...