चयनित कार्यालय सहायकों को नियुक्ति पत्र नहीं मिलने पिछे बेल्ट्रान-अफसरों की लूट

Share Button

चयन होने के बाद कार्यालय सहायकों को नियुक्ति पत्र नहीं देना एक बहुत बड़ी साजिश, घोटाला और उच्च अधिकारी की चाल है…………..”

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क। बिहार सरकार के अपर मुख्य सचिव, सामान्य प्रशासन विभाग के आदेशानुसार सभी जिलाधिकारी को कार्यपालक सहायक का नियोजन करने का आदेश दिया जाता है। जिसमें सभी जिला में परीक्षा लेकर पैनल निर्माण करने और राज्य के सभी पंचायतों में कार्यपालक सहायक की नियुक्ति करने का फरमान जारी होता है।

इसी के आलोक में सभी जिलों में ऑनलाइन कंप्यूटर टाइपिंग टेस्ट लेकर पैनल बनाने का काम होता है, जिसमें गरीब, मेहनती और कंप्यूटर के जानकार आवेदकों का चयन होता है।

पटना सहित कई जिलों में नियुक्ति पत्र देकर योगदान कराया जाता है। नालन्दा में भी नियुक्ति की प्रक्रिया अंतिम चरण में रहता है।

उसी समय अचानक से सामान्य प्रशासन विभाग के आदेश ज्ञापांक 1382 सभी जिलों को भेजा जाता है। जिसमें आगे से  कार्यपालक सहायक का नियोजन जिला पैनल से न कर बेल्ट्रान के माध्यम से करने का तुगलकी फरमान आता है।

प्रश्न उठता है कि आधे जिला जिसने बहाली कर लिया और आधे जिला जिसका बहाली प्रक्रियाधीन है दोनों के लिए अलग अलग नियम और मापदंड क्यों अपनाएं जा रहे हैं?

विदित हो कि बेल्ट्रान में ऑपरेटर बनने के लिए प्रतिभा नहीं पैसा होना चाहिए। बेल्ट्रान वाह्य एजेंसी के माध्यम से एक ऑपरेटर से लगभग 2 से 3 लाख रुपये की उगाही करता है, जिसका मोटा हिस्सा एमडी बेल्ट्रान को भी जाता है।

यानी जितनी कंप्यूटर ऑपरेटर की बहाली होगी, उतनी मोटी कमाई होगी। यही कारण है कि सरकार के कुछ दलालों ने कार्यपालक सहायक की बहाली की जगह बेल्ट्रान ऑपरेटर की बहाली करना उचित समझा।

राज्य के 90% बेल्ट्रान के ऑपरेटर को ठीक से कंप्यूटर ऑपरेट नहीं करने आता है। ऐसे में प्रशासनिक कार्यकुशलता का भगवान हीं मालिक है।

Share Button

Related News:

शराब रैकेट में सीएम नीतिश का गृह जिला नालंदा अव्वल
औटो पलटने से मजदुर की मौत
हिलसा जेल में कैदी की हालत बिगड़ी, पटना रेफर
मंत्री की माता के श्राद्ध कार्यक्रम में हेलिकॉप्टर से शामिल हुए सीएम
पावापुरी चौक पर बस ने युवक को कुचला, एन.एच. 31 जाम
खबर मन्त्र कर्मी देवानंद साहू की सड़क दुर्घटना में मौत
दो युवकों ने चलती ट्रेन में यूं ली मौत की सेल्फी
एक दिवसीय अभिभावक परामर्श प्रशिक्षण शिविर का आयोजन
7 बच्चों की मां से अवैध संबंध के विरोध पर शिक्षक ने पत्नी को जल्लाद की तरह पीटा
😳क्राइम कंट्रोल हेतु पटना बुलाए गए ये 18👨🏻‍🎨 उधर इन 11👨🏻‍🎨को दूसरे जिलों में भेजा गया
वह ATM की लाइन में तड़पकर मर गया और लोग लाइन में लगे रहे !
उदेरास्थान बराज से लोकायन में आई लहर, किसानों के खिले चेहरे
अब पुलिस की कमाई का खुला जरिया बनेगा संशोधित शराबबंदी कानून
फिर सरेराह छेड़खानी का वीडीयो वायरल, बिहार में कब थमेगा ऐसी हैवानियत
नगरनौसा प्रखंड मुख्यालय पहुँची त्रिपुरा से उठी विरोध की आंच
82 में 29 दागी तो 42 नन मैट्रीक, मुकेश सबसे अमीर तो पप्पु-रंजन दंपति बराबर
बोले प्रदेश राजद प्रवक्ता विधायक शक्ति यादव- नालंदा समेत सूबे में मर चुकी है पुलिसिंग
श्रावणी मेला: पुलिस की निष्क्रियता से कांवरिया पथ पर चोर उचक्के की चांदी
स्वतंत्रता दिवस समारोह को ऐतिहासिक बनाने का आह्वान
नालंदा डीएम के आदेश को ढेंगा दिखा चंडी में जारी है फर्जी शिक्षक नियोजन का खेल

One comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...