गुंडागर्दी के बीच नालंदा इंजीनियरिंग कॉलेज में पढ़ाई 31 मार्च तक स्थगित

चंडी (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। नालंदा इंजीनियरिंग कॉलेज में तनाव को देखते हुए कॉलेज प्रशासन ने 31 मार्च तक कॉलेज को बंद कर दिया है।यह आदेश प्रथम वर्ष से लेकर थर्ड इयर के सभी छात्रों पर लागू होगा। जबकि फाइनल इयर की पढ़ाई पहले की तरह संचालित होती रहेगी।

नालंदा इंजीनियरिंग कॉलेज के प्रभारी प्राचार्य सीबी महतो ने बताया कि मारपीट की घटना के बाद   छात्रों के बीच उत्पन्न विवाद अभी खत्म नहीं हुआ है।जूनियर छात्र भी दो गुटों में बंटे हुए हैं ।

जूनियर और सीनियर छात्रों के बीच तनाव देखा जा रहा है।जिसको देखते हुए कॉलेज प्रशासन ने निर्णय लिया है कि 31 मार्च तक थर्ड इयर तक के छात्रों को छुट्टी दे दी जाए।यह आदेश फाइनल इयर के छात्रों पर लागू नहीं होगा ।उनकी पढ़ाई चलती रहेगी।

प्राचार्य ने बताया कि लड़ाई हाॅस्टल बनाम बाहरी छात्रों की लड़ाई हो गई है।छात्रों ने इस घटना के लिए माफी मांगा है ।लेकिन भविष्य में इस तरह की घटना की पुनरावृत्ति न हो इसके लिए कॉलेज प्रशासन को कड़ा कदम उठाना पड़ रहा है।ताकि ऐसी घटना न घटे।

प्राचार्य ने छात्रों द्वारा दी गई घटना की भर्त्सना की और कहा कि यह दुखद घटना हुई है।

प्राचार्य ने बताया कि घटना की जांच के दौरान छह छात्रों की घटना में संलिप्ता सामने आई है।उनके खिलाफ एफआईआर हुई है।अन्य छात्रों को भी चिन्हित किया जा रहा है।दोषी छात्रों को बख्शा नही जाएगा ।

दस साल पूर्व 19 नवम्बर 2008 को चंडी मगध महाविद्यालय में कॉलेज का संचालन शुरू हुआ था । जिसके बारे में कहा जाता रहा है कि एम आई टी मुजफ्फरपुर के बाद नालंदा इंजीनियरिंग कॉलेज का स्थान दूसरा है। 

अपने शैशव काल से इंजीनियरिंग छात्रों का उत्पात जारी है।सर्वप्रथम नालंदा इंजीनियरिंग कॉलेज के छात्रों ने बस भाडा को लेकर बस चालकों की पिटाई की थीं ।

दिसम्बर 2009 में छात्रों ने कॉलेज की बिल्डिंग तथा अन्य सुविधाओं की मांग को लेकर भूख हड़ताल और धरना प्रदर्शन तक किया ।यहाँ तक कि कॉलेज के छात्रों की एक आवाज पर तत्कालीन डीएम, एसपी ही नहीं बल्कि विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग के सचिव तक दौड़े चले आते थे। सिर्फ़ इस लिए कि यह सीएम नीतीश कुमार का गृह जिला है और उनके लिए यह प्रतिष्ठा का विषय है।

आए दिन चंडी बाजार में छात्रों का उत्पात चलता रहा ।कई बार तो उनकी भिंड़त मगध महाविद्यालय के छात्रों के साथ भी हुई।अप्रैल 2012 में स्थिति तो इतनी बिगड़ गई कि छात्रों ने थाना में ही हंगामा शुरू कर दिया । थाने के एक जमादार की पिटाई तक कर डाली।पुलिस छात्रों के सामने भींगी बिल्ली बन कर रह गई । 

छात्रों ने थाने से पुलिस कर्मियों को खदेड डाला। मामला इतना बिगड़ गया कि तत्कालीन एसपी निशांत तिवारी को मोर्चा संभालना पड़ा ।छात्रों ने उन पर भी हमला कर दिया ।

एक छात्र ने तो उन पर गैस सिलेंडर जलाकर फेंक दिया था । बाद में जब मामला पुलिस के हाथ से निकलता दिखा तब चंडी की जनता ने मोर्चा संभाल लिया । 

चंडी की जनता ने उन्हें घर से निकालकर पीटना शुरू किया तब जाकर छात्र अपनी जान बचाकर इधर उधर भागें। इस घटना के बाद कई महीनों तक कॉलेज के छात्रों के बीच शांति बनी रही।फिर भी बाद के दिनों में छात्रों के द्वारा छिटपुट घटना को अंजाम दिया जाता रहा ।

लेकिन मंगलवार की घटना को देखकर 2012 की घटना स्वतः लोगों के जेहन में ताजा हो गई।जब सैकड़ों की संख्या में छात्रों  सड़क पर निकल कर हंगामा और उत्पात मचाने लगें। सीनियर छात्रों ने घर में घुस घुस कर जिस तरह से जूनियर छात्रों की बेरहमी से पिटाई की गई ।

अगर यह घटना दिन के उजाले में होता तो एक बार फिर छात्र -पब्लिक के बीच घटना की पुनरावृत्ति को कोई रोक नहीं सकता था ।भले ही मकान मालिक इस घटना के बाद भी नपुंसक बने हुए है। लेकिन चंडी की जनता में आक्रोश आज भी दिख रहा है।

स्थानीय बस स्टैंड के पास एक गर्ल्स हाॅस्टल में रह रहें छात्राओं के हंगामे से भी स्थानीय लोग परेशान है।शिक्षक पंकज कुमार का कहना है कि नालंदा इंजीनियरिंग कॉलेज चंडी के लिए एक कोढ साबित हो रहा है।

वही आरटीआई एक्टिविस्ट उपेन्द्र प्रसाद सिंह का मानना है कि नालंदा इंजीनियरिंग कॉलेज के छात्र -छात्राएँ हाथ में हाथ डालकर बीच बाजार में चलते हैं जिससे चंडी के छात्राओं पर इसका कुप्रभाव दिख रहा है।

Related News:

दहशत फैला लेवी वसूलने की मंशा से हिलसा आया पीएलएफआई सदस्य सोनू धराया
कोडरमा घाटी लूट कांड का खुलासाः कारोबारी का ड्राईवर ही निकला मास्टर माइंड
परमिट के नाम पर बसों की चांदी, यात्रियों की जान के साथ कर रहे खिलवाड़
सीएम साहब देखिए, क्या मजाक बना रखा है आपके अफसर-नेता
नियुक्ति पत्र नहीं मिलने से आक्रोशित कार्य. सहायकों का उग्र प्रदर्शन
बिहार के विकास के संदर्भ में आज भी प्रासंगिक है श्री बाबू के विचार
बांका से जुड़े पुलवामा हमला के तार, ताबड़तोड़ हो रही छापामारी, हिरासत में एक संदिग्ध!
एएनएम के बेटे ने जहर खाकर की आत्महत्या, छोड़ा सुसाइड नोट
इस सड़क हादसे ने खोली पुलिस लाइन डीएसपी की मनमानी की फिर पोल
पीएम मोदी के भ्रष्टाचार की मुहिम का हिस्सा बनना चाहा, हो गया बर्खास्तः तेज बहादूर
पुलिस के हत्थे चढ़ा शराब कारोबार का सरगना सुनील
सीएम 7 निश्चय योजना की बैठक से बीडीओ गायब, डीएम ने एक दिन का वेतन रोका
फिर सुर्खियों में हिरण्य पर्वत, प्राचीन मकबरा के खादिम को अधमरा कर करोड़ों का सिजरा चोरी
समलैंगिक महिला दपंति की फांसी टंगी लाश, हत्या या आत्महत्या, तफ्शीश में जुटी पुलिस
फिर दिखा भीड़ का वहशीपन, पी़ट-पीट कर शिक्षक की सरेआम की हत्या
10 लाख की फिरौती मांगने वाले 3 अपराधी 5 घंटे में धराये, अपहृत छात्र भी बरामद
बीच सड़क घायलों को तड़पता देख भी नही रुका केन्द्रीय मंत्री सुदर्शन भगत का काफिला
बांकाः अधिवक्ता को दिनदहाड़े गोली मारी, हालत गंभीर
टाटा प्रबंधन का तुगलकी फरमान, 21 दिनों तक जुबली पार्क बंद
हदः नाबालिग रेप मामले में न्यायालय की भी नहीं सुन रही नालंदा पुलिस
बोले मी लार्ड- ‘मीडिया की आजादी के खिलाफ नही हैं हम’
'ऐसे भांड़ नेता और अफसर पर केस कर उसे जेल में डाले सरकार'
नालंदा इंजीनियरिंग कॉलेज के 5 स्टूडेंटस् पर गिरी अनुशासन की गाज
सहरसा डीएम शैलजा शर्मा को मिला राष्ट्रीय सिल्वर अवार्ड
अफसोस ! 70 साल बाद भी पूर्ण पर्यटन स्थल नहीं बन सका नालंदा
2022 तक विकसित राज्य की श्रेणी में होगा झारखंडः रघुबर
वारंटी को दबोचने गई नगरनौसा पुलिस पर हमला, हुआ 9 पर FIR
पीएम मोदी ने की नालंदा सूर्य महोत्सव के सफलता की कामना
नालंदा में नवविवाहिता की गला रेत हत्या, कटी सर ढूंढने में जुटी पुलिस
मन और शरीर की साधना का अभ्यास है 'फालुन दाफा'
सीएम के नालंदा में भ्रष्टाचार से बने सिंचाई मंत्री के गांव का जलमीनार धाराशाही
एक्सपर्ट मीडिया न्यूज का असर- डूडा का टेंडर खुला लेकिन.....!
बाल विवाह और दहेज प्रथा पर रोक में भागीदार बनें छात्र जदयूः श्याम
हिलसा में आपसी सौहार्द को लेकर शांति समिति की बैठक
80 वर्ष का बूढ़ा भी लगा रहा था नाबालिग बेटी की बोली, 7 धराए
'छोटका मोदी' के बयान पर पीके का ट्विटर विस्फोट, बौखलाई भाजपा
हवाई सर्वेक्षण बाद बोले कोल्हान डीआईजी- नक्सली क्षेत्रों में जल्द दिखेगा बड़ा बदलाव
9 गांवों में एक साथ हुई पत्थलगड़ी में हजारों लोग शामिल
पटना चिकित्सक पुत्र अपहरण-हत्या कांड के मामले में रुपसपुर थानेदार सस्पेंड
ऐसे मंत्री को तुरंत प्रभाव से बर्खास्त करें सीएमः तेजस्वी यादव

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...