किसी के पास जवाब है कि अच्छे दिन कैसे आ गए :मीसा भारती

Share Button

हम सबने बचपन में एक कहानी ज़रूर पढ़ी होगी जिसमें एक दर्ज़ी राजा के लिए एक ऐसा कपड़ा सिलने का दावा करता है जो सिर्फ़ समझदार आदमी को ही दिखाई देगा, मूर्खों को नहीं।

दर्ज़ी ने झूठ मूठ ऐसा वस्त्र सिल दिया जो दरअसल था ही नहीं। नतीजतन मुर्ख करार दिए जाने के डर से सभी उस अस्तित्वहीन वस्त्र की ख़ूबसूरती की बड़ाई करने में जुट गए।

कुछ ऐसी ही स्थिति आज हमारे देश की है। चालाक दर्ज़ी हमारे देश को काल्पनिक अच्छे दिन के वस्त्र के अस्तित्व का लगातार दावा करने में भिड़े हैं। और जो कोई इस दावे का खंडन करता है उसे देश द्रोही, विकास विरोधी और पूर्वाग्रह पीड़ित बता दिया जाता है।

सोशल मीडिया पर मोदी भक्त गालीगलौज पर उतर कर अपनी परवरिश की दुहाई देने लगते हैं। इलेक्ट्रॉनिक मीडिया में कम से कम दो ऐसे हिंदी चैनल हैं जिन्हें संवाददाता हलकों में मोदी चैनल 1 & 2 का नाम दे दिया गया है।

अच्छे दिन कैसे आ गए हैं, इसका किसी के पास जवाब नहीं है। एक साल में नए नामकरण से पुरानी योजनाओं को लागू करने, नयी बोतल में पुरानी शराब डालने, बिना रोडमैप और फंडिंग की योजनाओं को पूरे ताम झाम के साथ लागू करने, फ़ोटो ऑप्स में गवर्नेंस को सीमित करने, कल्याणकारी योजनाओं के आवंटन को कम करने के अलावा और कुछ नहीं किया गया है।

ऊपर से व्यापम घोटाला, ललित मोदी प्रकरण, घर वापसी, जुमलेदार बातें, हावी नौकरशाही, झुठलाए वादे और महंगाई-भ्रष्टाचार का दंश इत्यादि ।

ना देश साफ़ हुआ-ना गंगा, ना चीन रुका- ना पाकिस्तान, ना दाऊद आया- ना बांग्लादेशी गए, ना महिला सुरक्षित- ना अल्पसंख्यक, ना अर्थव्यवस्था सुधरी- ना रक्षा, ना किसान खुश- ना जवान और ना नौजवान ।

देश पूछ रहा है हैरान, तो फिर अच्छे दिन कैसे आ गए छप्पन इंच की छाती वाले पहलवान?

पूरा देश आज काल्पनिक ‘अच्छे दिन’ रुपी वस्त्र पहन कर सहमा हुआ नंगा खड़ा है और एक ओर चालाक दर्ज़ी 12 लाख का सूट पहन कर मंद मंद मुस्कुरा रहा है।   

….. राजद सुप्रीमों लालू प्रसाद की पुत्री  मीसा भारती  अपने फेसबुक वाल पर

Share Button

Related News:

अंततः राजगीर सीओ ने जिला परिषद की जमीन से भू-माफिया को भगाया
अब कर्नाटक में 'चाचा' के सामने आक्रामक तेवर दिखायेगें तेजस्वी
चुट्टुपालू घाटी में आपसी टक्कर से 2 ट्रक और 1 तेल टैंकर राख
बिहार उपचुनावः सहानुभूति लहर में बेटों और पत्नी ने बचाई ‘विरासत’
पर्वतारोही मिताली प्रसाद के सपनों को साकार करेंगे डॉ सुनील दुबे
नहीं मिला पैक्सों को पूरा पैसा, डीएम पर मनमानी का आरोप
कमिश्नर की चौपाल में उमड़े फरियादी, रखी समस्याएं
किसानों की मौत को दबाने के लिए हो रहा एसआईटी गठनः सुबोधकांत
विजातीय प्रेम विवाह पर बवालः हमला, पथराव और फायरिंग
रघुवर सरकार के खिलाफ छात्रों की विशाल महारैली
गोबरछत्ते की तरह उगे कोचिंग संस्थानों पर नालंदा डीएम की बड़ी कार्रवाई
पॉजिटिविटी की तलाश में आज दिन भर जुटी रही एक्सपर्ट मीडिया न्यूज टीम
सीएम नीतिश के कड़वा विकास के बीच उनके काफिले पर हमले का वायरल हुआ वीडियो
राजगीर रोप वे को खोखला करती भ्रष्टाचार का दीमक, बड़ी हादसा टलने के बाद फिर 5 दिन बंद!
साक्षरता संयुक्त संघर्ष मोर्चा अपनी मांगो को लेकर पटना राजभवन रवाना
राजगीर की इस दर्शनीय धरोहर को मिटाने के बजाय संवर्धन और प्रबंधन की जरुरत
सावधान ! जानलेवा नकली मिठाई का बाजार गर्म, प्रशासन है लापरवाह
रिश्वत लेते रंगे हाथ निगरानी के हत्थे चढ़े हिलसा सीओ के बचाव में उतरे विधायक
अब सीएम नीतीश भी चले पीएम मोदी की इस राह
मुजफ्फरपुरः 15 हजार घूस लेते निगरानी के हत्थे चढ़ा सिकंदरपुर पुलिस ओपी इंचार्ज

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

loading...
Loading...