….और लालू जी गुस्से से लाल होकर ली बक्सर एसपी और डीएम की क्लास

पीड़ित फरियादी की बात सुनकर रविवार को सुबह-सुबह लाल हो उठे राजद प्रमुख लालू जी बक्सर एसपी से पूछा कि आरोपियों के खिलाफ कौन सा दफा (एक्ट के तहत मामला दर्ज किए हो) लगया है?

भास्कर.कॉम के अनुसार लालू जी के आवास पर बक्सर से कुछ फरियादी अपनी शिकायत लेकर आये थे। फरियादी ने जब बक्सर के थानेदार को फोन लगाया तो वो फोन पर शिकायत सुनने की बजाय जमकर उसे हड़काया।

इस बात की सूचना आवास के अंदर राजद प्रमुख लालू तक पहुंची तो उन्होंने तमाम फरियादियों को अपने आवास के अंदर बुला लिया। लालू ने फरियादी के सामने ही पहले बक्सर जिले के धनसोई थानाध्यक्ष और फिर वहां के एसपी को फोन लगाया।

लालू प्रसाद ने थानेदार को ठीक से कार्रवाई करने का निर्देश देते हुए कहा कि उनकी सारी बातें कैमरा में भी कैद हो गया है।

लालू ने धनसोई थानेदार को फोन लगाकर कहा कि आप थानेदार हैं और पॉलिटिक्स के बारे में आपको बोलना शोभा नहीं देता। कोई तीन पांच करोगे तो कार्रवाई हो जायेगी लालू प्रसाद ने फिर बक्सर एसपी को फोन लगाकर थानेदार के खिलाफ कार्रवाई करने का निर्देश भी दिए।

जब दबंगों की शिकायत लेकर आये दलित परिवार के पीड़ित लोगों ने लालू आवास से ही धनसोई थानेदार को फोन कर कहा कि हम लोग अपनी फरियाद लेकर लालू जी के पास आए हैं।

इस पर धनसोई थानेदार ने कहा कि तुम लालू यादव के पास जाओ या फिर जीतन राम मांझी के पास। कार्रवाई वो ही होगी जो कानून सम्मत होगा। इस बात को सुनकर लालू प्रसाद ने फरियादियों को तत्काल अंदर बुलाया और एसपी से बात कर इसपर कार्रवाई करने का निर्देश दिया।

आज तक.कॉम के अनुसार लालू प्रसाद यादव ने कलेक्टर से कहा-

‘कलेक्टर साहब धंसोई गांव के मुशहर लोग पूरा बाले-बच्चे, महिला के साथ इंज्यूरी के साथ आया है, इन लोगों को बेरहमी से पीटा है, इन लोगों का घर जलाया है, औरत का हाथ खींच रहा था, बदमाशी करने के लिए, और इन लोगों की पूरी संपत्ति जला दी गई। थानेदार ने ठीक से व्यवहार नहीं किया, इन लोगों के साथ और उनके ऊपर जिला परिषद प्रमुख हैं, उन लोगों का पक्ष लेकर झूठा केस लगवाया और उल्टा कहा कि तुम सबको जेल जाना पड़ेगा, ये बड़ा भारी डाउट है, धंसोई के थानेदर ने कहा लालू के यहां जाओ नीतीश के यहां जाओ कहीं जाओ कुछ नहीं होने वाला है, हमारा गुप्तेश्वर पांडे है, और बुरी तरह से जनता के साथ अन्याय किया है।

हरिजन एक्ट के तहत कार्रवाई होनी चाहिए, और इन लोगों को प्रोटेक्शन मिलना चाहिए, पता नहीं आपको बताया है कि नहीं सब हां, बात कर लीजिए आप लोगो को स्पॉट पर जाना चाहिए। बहुत जरुरी है, शासन का मैसेज जाना चाहिए, आप लोग सब जाइए, हम भेज रहे हैं इन लोगों को आपके पास।

क्या है पूरा विवाद

लालू यादव के यहां बक्सर के कुछ लोग शिकायत लेकर आये कि गांव के कुछ दबंगों ने उन्हें बुरी तरह पीटा और उनके घर जला दिये। लेकिन पुलिस ने कुछ कार्रवाई नहीं की। धंसोई का थानेदार ने मुशहर जाति के इन लोगों को धमकी दी जिसके पास मेरा शिकायत लेकर जाना है जाओ। चाहे नीतीश कुमार हो या लालू यादव, हमारे साथ गुप्तेश्वर पाण्डेय हैं। गुप्तेश्वर पाण्डेय बिहार पुलिस में एडीजी के पद पर तैनात हैं और बक्सर के ही रहने वाले हैं। थानेदार ने उल्टा पीडित लोगों पर मुकद्दमा किया। आरजेडी अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने तुरंत बक्सर को कलेक्टर को फोन लगाया और उनसे कार्रवाई करने को कहा।

Related News:

पुलिस के हत्थे चढ़ा शराब कारोबार का सरगना सुनील
अब रोगियों को दिल्ली नहीं जाना पड़ेगाः स्वास्थ्य मंत्री
नालंदा में 30% कमीशन मांगता है मुखिया, वार्ड सदस्यों ने बिहारशरीफ में दिया धरना
 अतिक्रमण हटाने में भेदभाव, प्रशासन के समक्ष सामूहिक आत्मदाह करेगें दर्जनों महादलित
ग्राम विकास शिविर लगाकर आम जनों की समस्याओं का निपटारा
नालंदा में पल्स पोलियो अभियान पर डीम का अगले आदेश तक रोक
15 अवैध क्रेशर ठिकानों पर चला प्रशासन का जेसीबी
हरिशंकर परसाई की 'भेड़ें और भेड़ियें' वनाम रांची प्रेस क्लब चुनाव
अंतु तिर्की के नेतृत्व में झामुमो का पैदल मार्च और प्रखंड का घेराव
नालंदाः भारी बवाल के घंटों बाद पहुंचे DSP-SDO-SP की मिन्नत के बाद हालात काबू, लेकिन तनावपूर्ण

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...