एक ‘मच्छर’ ने पूरे बिहार स्वास्थ्य विभाग को यूं ‘हिजड़ा’ बना दिया

Share Button

”  नाना  पाटेकर अभिनित फिल्म यशवंत का  मशहूर गीत-डायलॉग है कि एक  मच्छर  ..आदमी को हिजड़ा बना देती है …एक मच्छर। एक खटमल पूरी रात को अपाहिज बना देता है …एक मच्छर आदमी को हिजड़ा बना देता है। क्योंकि आत्मा और अंदर का इंसान मर चुका है.. जीने के लिए घिनौने समझौते कर चुका है …एक मच्छर आदमी को हिजड़ा बना देता है…”

 -: एक्सपर्ट मीडिया न्यूज /मुकेश भारतीय :-

लेकिन..यदि आज हम बिहार के समाचार पत्रों में प्रकाशित एक विज्ञापन की बात करें तो साफ स्पष्ट होता है कि एक मच्छर पूरे स्वास्थ्य विभाग को हिजड़ा बना दिया है।

स्वास्थ्य सेवाएं, बिहार के निदेशक प्रमुख के स्तर से समाचार पत्रों में एक विज्ञापन पीआर नं. 1101 (हेल्थ) 2018-19 प्रकाशित करवाई गई है।

इस विज्ञापन में मूलतः उल्लेख है कि…

श्री सृस्टि राज सिन्हा, एसडीओ सहरसा की मृत्यू डेंगु से नहीं हुई है। स्वास्थ्य विभाग समाचार पत्रों में प्रकाशित खबरों का श्री सिन्हा की असमायिक मृत्यु पर खेद प्रकट करते हुए खंडन करती है।

विज्ञापन के अनुसार संबंधित निजी अस्पताल, जहां श्री सिन्हा दिनांक 20.10.2018 को पहली बार भर्ती हुए, उसी दिन 7.25 अपराह्न में डिस्चार्ज कर दिये गए। पुनः दिनांक 29.10.2018 को उसी अस्पताल में भर्ती हुए।

उन कागजात के अध्ययन करने पश्चात ज्ञात हुआ कि दिनांक 31.10.2018 को श्री सिन्हा की मृत्यु हुई। चिकित्सीय रिपोर्ट में श्री सिन्हा डेंगू ऋणात्मक पाए गए। मृत्यु के कारणों के संबंध में संदर्भित निजी अस्पताल द्वारा अभी मृत्यु प्रमाण पत्र निर्गत नहीं किया गया है।

विज्ञापन में आरोप लगाया गया है कि कतिपय समाचार पत्रों द्वारा इस संबंध में प्रकाशित समाचार भ्रामक है तथा इस प्रकार का समाचार आम जनों में डेंगू के संबंध में भ्रांति फैलाने का कार्य कर रहा है।

दिवंगत एसडीएम सृस्टि राज सिन्हा की फाइल फोटो……

दरअसल स्वास्थ्य विभाग का यह विज्ञापन ही बड़ा भ्रामक है। स्वास्थ्य विभाग के निदेशक प्रमुख को यह भी पता नहीं है कि सृस्टि राज सिन्हा को हिलसा (नालंदा) के एसडीओ से स्थानान्तरित कर सहरसा का वरीय उप समाहर्ता बनाया गया था, न कि सहरसा का एसडीओ।

सबसे बड़ी बात कि परिजनों के अनुसार उन्हें प्रारंभिक तौर पर ही पारस अस्पताल द्वारा डेंगु होने की बात कही गई। उसी का ईलाज हुआ। अगर डेंगू से सृस्टि राज सिन्हा की मौत नहीं हुई तो फिर फीवर के साथ अचानक मौत कैसे हो गई। क्या बिना मृत्यु प्रमाण पत्र के कोई अस्पताल किसी का शव परिजनों को सौंप सकती है?

जिस मानसिकता से स्वास्थ्य विभाग मीडिया की खबरों का खंडन कर रही है, वह काफी शर्मनाक है। विज्ञापन में एक प्रशासनिक अफसर की मौत के कारणों का भी उल्लेख किया जाना चाहिए। लेकिन उसे यह कह कर छुपा लिया गया है कि अस्पताल से अभी मृत्यु प्रमाण पत्र निर्गत नहीं हुआ है।

इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता है कि पारस अस्पताल सरीखे बड़े बड़े निजी अस्पताल सरकारी सांठगांठ से अधिक पनपते हैं। यह अलग बात है। लेकिन डेंगू को लेकर इस तरह के विज्ञापन आम जन में भ्रम पैदा करने वाले हैं।

दिवंगत एसडीएम सृस्टि राज सिन्हा को मुखाग्नि देते उनके 6 वर्षीय पुत्र…

यह विभागीय निकम्मापन और सरकार की लापरवाही ही है कि एक तरफ राज्य में डेंगू जैसे जानलेवा रोग के वायरस तेजी से फैल रहे हैं, वहीं उसे लेकर भ्रामक संदेश जिम्मेवार लोग ही दे रहे हैं। क्या विभाग या सरकार यह मानती है कि बिहार में डेंगु का प्रकोप नहीं है और उससे कोई मौत नहीं हुई है?

यह सब जानते हैं कि सूबे में सरकारी स्वास्थ्य सेवाओं की हालत क्या है। कहीं लगता ही नहीं है कि विभागीय मंत्री पद भी कोई है। ऐसे भी सरकार खुद की कथित सुशासन की छवि से इस कदर ग्रस्त हो चुकी है कि वे आयना देखने को तैयार ही नहीं होती।

अगर किसी भ्रामक समाचार का खंडन ही करना है या फिर अपनी लापरवाहियों को ढंकना ही है तो विभागीय निदेशक प्रमुख या मंत्री या फिर अस्पताल को मीडिया के सामने खुलकर प्रेस कांफ्रेस करनी चाहिये थी, चोरी छुपे विज्ञापन के जरिये अपनी बात कहने की क्या जरुरत पड़ गई? छुपाने से काली दाल सफेद नहीं हो जाती।

Share Button
यह भी पढ़ें...
"ग्रामीणों ने दनियावां-बिहार शरीफ़ 30A मुख्य मार्ग  पर  मुआवजा की मांग को लेकर शव को रखकर 3 घंटे तक जाम रखा। आगजनी किया। हंगामा किया। वाहनों में तोड़-फोड़ की। मारपीट की। इस दौरान पुलिस मुकदर्शक दिखी....... " नगरनौसा (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। नालंदा जिले के नगरनौसा थाना क्षेत्र अंतर्गत रामघाट बाजार के : खबर विस्तार से.....
नालंदा (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क)। मीडियाई सुशासन बाबू उर्फ बिहार के सीएम नीतीश कुमार का गृह जिला नालन्दा राजनीतिक करवट की अंगड़ाई लेता दिख रहा है। राजनीतिक करवट तो 2014 के लोकसभा चुनाव में ही तय हो गयी थी, लेकिन मामूली मतों के अंतर से कौशलेंद्र कुमार की दोबारा वापसी हुई : खबर विस्तार से.....
"हमारे हिंदी मुहावरों में कई ऐसे हिंदी मुहावरे हैं, जिसके अलग-अलग जगहों पर अलग -अलग भावार्थ होता है। ऐसा ही एक मुहावरा खिसियानी बिल्ली खंबा नोचे का भावार्थ नालंदा जिला में चरितार्थ हो रहा है......." एक्सपर्ट मीडिया न्यूज (ऋषिकेश)। पिछले दिनों महागठबंधन प्रत्याशी अशोक कुमार आजाद का किसी के द्वारा वीडियो : खबर विस्तार से.....
"यदि ऐसा है तो यह वायलेंस है और वे इस पर कड़ा एक्शन लेंगे। इस तरह के अव्यवस्था को लेकर वे पोस्ट ऑफिस सुपरटेंडेट को जबाव तलब करेंगे....... श्री योगेन्द्र सिंह, जिलाधिकारी सह निर्वाची पदाधिकारी,नालंदा "। एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क। नालंदा के प्रायः सभी उप डाकघरों में पिछले दो 2 दिनों : खबर विस्तार से.....
एक्सपर्ट मीडिया न्यूज (धर्मेन्द्र)। नालंदा जिले के हिलसा नगर के खाकी चौक पर एत अनियंत्रित ट्रैक्टर ने स्कूल जा रही तीन सगी बहनों को रौंद डाला है। इस हादसे में एक बच्ची की मौत हो गई है। अन्य दो स्कूली बच्चों की हालत भी नाजुक बताई जा रही है। इस घटना : खबर विस्तार से.....
"जीत के ताल ठोक रहे इन दोनों गठबंधन के उमीदवारों के बीच तब बेचैनी बढ़ गयी, जब हिलसा के पूर्व विधायक रामचरित्र प्रसाद ने लोकसभा चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी। उन्होंने आगामी 26 अप्रैल को नामांकन का पर्चा दाखिल करने की बात कही..." हिलसा (एक्सपर्ट मीडिया न्यूज)। नालंदा लोकसभा का : खबर विस्तार से.....
नालंदा जिले के हिलसा फतुहा रेलखंड पर मई क्रॉसिंग के पास गुरुवार को 73327 अप सवारी गाड़ी से एक महिला ट्रेन के चपेट में आने से मौत हो गई। चश्मदीदों का माने तो महिला पहले से ही रेलवे ट्रैक पर बैठी थी। लोगों को लगा कि महिला शौच के लिए बैठी : खबर विस्तार से.....
"ऐसे इस बात को लेकर ग्रामीण कुरेचते हैं कि यह मुख्य मंत्री का गृह जिला पड़ता है। फिर भी करोड़ों का बना जलमीनार को जंग खा रहा है। यह दुर्भाग्य पूर्ण है..." एक्सपर्ट मीडिया न्यूज (रंजीत)। परवलपुर प्रखंड के शंकरडीह पंचायत के मर्दनबिगहा गावँ में करोड़ो की लागत से बनी जलमीनार, जिससे : खबर विस्तार से.....
एक्सपर्ट मीडिया न्यूज। सरायकेला-खरसावां जिला के चांडिल थाना अंतर्गत नरगाडीह में भीषण सड़क हादसा हुआ है, जहां एक रिशेप्सन पार्टी से लौट रहा पिकअप वैन अनियंत्रित होकर पलट गया। इस हादसे में एक बच्चा सहित तीन लोगों की मौत हो गई है और वैन में सवार डेढ़ दर्जन से ज्यादा यात्री : खबर विस्तार से.....

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Loading...