एक बेईमान एसडीओ  बना जल संसाधन मंत्री ललन सिंह का आप्त सचिव !

Share Button

पटना(विशेष संवाददाता)। नालंदा जिले में भ्रष्ट, निकम्मा और बेईमान अफसरों की भरमार है। आम जनता का शोषण और दमन करना उनका पेशा बन गया है। सीएम नीतिश कुमार खुद को हालांकि पटना जिले के निवासी बताते हैं लेकिन, लोग उनके गृह जिला नालंदा को मानते हैं। इस ख्याल से नालंदा की व्यवस्था में व्याप्त कुशासन और भ्रष्टाचार मन-मस्तिष्क को झकझोर जाती है।

lalan_singh_sdoबहरहाल, उसी व्यावस्था के सिरमौर बने हिलसा अनुमंडल के एसडीओ अजीत कुमार सिंह सीएम नीतिश कुमार के करीबी और कद्दावर मंत्री राजीव रंजन सिंह उर्फ ललन सिंह के आप्त सचिव बनाये गये हैं। इससे साफ प्रतीत होता है कि नालंदा की व्यवस्था में निकम्मों और बेईमान अफसरों को उच्च सत्ता संरक्षण प्राप्त है।

हिलसा में एसडीओ रहने के दौरान अजीत कुमार सिंह सिर्फ दलालों की सुनते रहे। भूमि विवाद के मामलों में जमकर अपान निकम्मापन और बेईमानी दिखाई। एक विविध मुकदमा संख्या-25 एमपी / 2015 के मामले में तो हद कर दी। पुलिस की मदद से धारा-144 के दौरान एक विवादित भूमि पर काम होता रहा। इसकी शिकायत जब उनकी भरी अदालत में की गई तो उन्होंने पुलिस की रिपोर्ट का कोई कार्य न होने का हवाला दिया। जब शिकायतकर्ता ने उन्हें कोर्ट की कार्रवाई के दौरान भी धारा-144 के उलंघन होने का दावा किया तो उन्होंने अपनी ईमानदारी को फंसता देख किसी दूसरे अंचलाधिकारी से कोर्ट की कार्रवाई के दौरान ही विवादित स्थल का मुआयना कर रिपोर्ट मंगवाई। अंचलाधिकारी के ने अपनी जांच में धारा-144 का उलंघन होते सप्रमाण रिपोर्ट दी और दोषियों के खिलाफ धारा-188 के तहत तत्काल कार्रवाई करने की अनुसंशा की।

यह भी पढ़े  सरकारी बॉडीगार्ड-हथियार समेत मंजू वर्मा फरार, उधर सो रही सरकार !

hilsa-_crupt_sdtoलेकिन, एडीओ के मन में पहले से ही बेईमानी भरी पड़ी थी। इसलिये उन्होंने खुद के द्वारा निर्देशित एक दंडाधिकारी की रिपोर्ट के वावजूद कोई कार्रवाई नहीं की और फिर उसके बाद तारीख पर तारीख देते हुये मामला को टरकाते रहे। इस दौरान असमाजिक तत्वों ने समूचे विवादित भूमि को अपने कब्जे में लेकर पक्का निर्माण कर लिया। उसके बाद एसडीओ ने पुलिस के पूर्व झूठी रिपोर्ट के आधार पर ही धारा-188 निरस्त कर अपनी बेईमानी का परिचय दे डाला।  ऐसे कईयों उदाहरण हैं, जो एसडीओ अजीत कुमार सिंह को यूंही बेनकाब कर जाती है।

सबाल उठता है कि ऐसे निकम्मे व बेईमान अफसरों को खुला संरक्षण और बढ़ावा देकर सीएम नीतिश कुमार की सरकार के  कद्दावर मंत्री ललन सिंह खुद सुशासन को किस तरह से परिभाषित की है।chandi-co-report 144-chandi-police

Share Button

Related News:

वार्ड सदस्य से 1.32 लाख घूस लेते निगरानी के हत्थे चढ़ा हिलसा का जेई
पूर्व सैनिक की हत्या या आत्महत्या! मामला संदिग्ध
यूं गरजे मधु कोड़ा, कहा- भाजपा को 2019 में उखाड़ फेंकेंगे
ड्यूटी के दौरान शराब पीते धराया और जेल गया डॉक्टर फिर बना रेफरल अस्पताल का प्रभारी!
सम्प्रदायिक तनाव को लेकर शांति समिति की बैठक
कड़ाके की ठंढ लील गई मगही पान की फसल, किसान हुये बेहाल
श्मशान के जमीन पर चला दबंगों का बुलडोजर
“नदंन गांव की घटना दुर्भाग्यपूर्ण, लेकिन न्याय और विकास कहां”
इस पुलिस इंसपेक्टर ने गाली देते मृत बच्ची की मां से कहा- 'पैदा कर रास्ते में छोड़ देते हो'
NEET की रिजल्ट पर मदुरै HC की रोक, CBSE से 28 मई तक जवाब मांगा
सरकारी योजनाओं के अंबार, पर बदल नहीं रही गोड्डा की तस्वीर !
स्कूल में बैट्री-बल्ब के खेल से ब्लास्ट, 2 बच्चे घायल
राजबल्लभ का राज खत्म, गई विधायिकी
सरकारी बॉडीगार्ड-हथियार समेत मंजू वर्मा फरार, उधर सो रही सरकार !
बिहार राज्य पथ परिवहन की बस से अवैध दवा का कारोबार
IAS चंद्रशेखर सिंह पर चला चुनाव आयोग का डंडा, दिवेश सेहरा बने डीएम
भगवान बुद्ध के नाम पर गोरखधंधा, दुनिया में बदनाम हो रहा नांलदा और बिहार
कोडरमा पुलिस को नालंदा में मिली बड़ी कामयाबी, 31.48 लाख नकद व 3.2 किलो सोना बरामद  
सूबे के ये 41 पुलिस अफसर 10 साल तक नहीं बनेंगे थानेदार, देखें पूरी सूची
NH 33 के ढाबे पर अपराधियों का तांडव CCTV में हुआ कैद
हाथियों से परेशान किसानों का प्रदर्शन, वन प्रमंडल पदाधिकारी को बनाया बंधक
पत्रकारों और उनके परिजनों का होगा पांच लाख का स्वास्थ्य बीमा
रसोईया दंपति ने पहले प्रधान शिक्षक को पीटा, फिर किया रेप का केस, मुखिया ने पहले दी धमकी, फिर कराया र...
'हर परिसर-हरा परिसर' कार्यक्रम के तहत लगाये गये फलदार पौधे
भानु कंस्ट्रक्शन का रोचक गोरखधंधा, बैंक DGM  दुष्मंत पंडा का ट्रांसफर
बढ़ते पुलिस दबिश के बीच सांसद कड़िया मुंडा के अगवा तीनों बॉडीगार्ड रिहा
'अंतिम दिन स्वस्थ तन-मन का मूल मंत्र दे गए बाबा रामदेव'
आश्रयणी मीडिया का कांके में एक दिवसीय कला एवं फोटो प्रदर्शनी
राजगीर में गुंडागर्दी करने वालों पर होगी कड़ी कार्रवाईः पर्यटन मंत्री
आजसू ने सड़क से गांव तक दिखाया दम, लिखवाये हजारों पोस्टकार्ड
जलमीनार कांडः मुखिया पति ने वार्ड का पैसा हड़प यूं खरीदा न्यू बोलोरो  
आंगनबाड़ी सेविकाओं-सहायिकाओं के मानदेय में बढ़ोतरी
भीषण कनकनी से आमजन हलकान,हिलसा के अफसर फरमा रहे आराम
जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्याम किशोर झा ने संभाला पदभार, बताई प्राथमिकता
पश्चिम बंगाल तट से टकराया फानी, संकट टला, लेकिन आंधी-बारिश की आशंका
एक्सपर्ट मीडिया की खबर का असर, वन विभाग ने संभाला मोर्चा
मौत बांट रही टाटा कंपनी के वाहनों का विरोध
ट्रैक्टर की चपेट में आए एक बाइक पर 3 सवार, 1 की मौत, 2 गंभीर
पूर्व मंत्री पर सीसीए हटा, विधायक पत्नी बोली- सीएम और लठैत प्रशासन का मुंह हुआ काला
बाहुबलियों की जंग में कौन होगा मुंगेर का 'सरकार '

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...