उलझा नाबालिग छात्रा की थाना में शादी का मामला, पुलिस को क्लीन चिट, ठंडे बस्ते में बाल संरक्षण आयोग का रिपोर्ट

राजनगर थाना पुलिस, राज्य सरकार और राज्य महिला एवं बाल विकास मंत्रालय को 8 दिसम्बर 2018 को सौंपे गए राज्य बाल संरक्षण आयोग के जांच रिपोर्ट को झूठा साबित करते हुए पूरे मामले में खुद को क्लीन चिट दे दिया है…………………..”

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज नेटवर्क। सरायकेला- खरसावां जिले के राजनगर थाना में कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय की नाबालिग छात्रा की शादी मामले में नाटकीय मोड़ आ गया है। जिला बाल संरक्षण अधिकारी के 28 नवम्बर 2018 के रिपोर्ट को आधार मानकर राजनगर थाना पुलिस खुदको पाक साफ साबित करने में जुटी हुई है।

बाल संरक्षण अधिकारी ने अपने रिपोर्ट में साफ कर दिया था कि नाबालिग छात्रा गंगा महतो की शादी बनकाटी गांव में समाज के सामने रीति रिवाज के साथ हुई है। बाल संरक्षण अधिकारी ने अपने रिपोर्ट में युवक राजीव महतो, उसके पिता गोवर्द्धन महतो, छात्रा का चाचा नरेराम महतो (अब मृत),  के साथ छात्रा की मां जानकी महतो एवं दोनो गावों के सौ ग्रामीणों को ही पूरे मामले में दोषी ठहरा दिया है।

जबकि थाना के तत्कालीन प्रभारी यज्ञ नारायण तिवारी और एएसआई अनिल ओझा को पूरे मामले में क्लीन चिट दे दिया है। वहीं राज्य बाल संरक्षण आयोग ने अपने आठ पन्नो के रिपोर्ट में साफ तौर पर नाबालिग छात्रा की शादी पुलिसकर्मियों के दबाव में थाने में कराए जाने का जिक्र किया है।

इसका मतलब साफ हो गया है कि राज्य बाल संरक्षण आयोग के रिपोर्ट को राजनगर थाना पुलिस और मामले की आईओ ने दरकिनार करते हुए जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी के 28 नवंबर के रिपोर्ट को सही मानते हुए पूरे मामले को नाटकीय मोड़ दे दिया है। जबकि आयोग की रिपोर्ट के अनुसार जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी भी आयोग के साथ जांच के वक्त मौजूद थे।

ऐसे में सवाल ये उठता है कि आखिर जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी अपने ही आयोग को गलत रिपोर्ट को किसके दबाव में दिया ? क्या आयोग के साथ उस वक्त मौजूद बाल संरक्षण पदाधिकारी ड्यूटी के बजाए कुछ और ही खेल की पृष्ठभूमि तैयार कर पहुंचे थे ? वैसे अब ये तय बाल संरक्षण आयोग को करना है कि उनके द्वारा तैयार किया गया रिपोर्ट सही है या गलत! आखिर आयोग के रिपोर्ट को उसी विभाग के अधिकारी झुठलाने की हिमाकत कैसे कर सकता है? 

वहीं निचले अधिकारी के पुराने रिपोर्ट के आधार पर पुलिस खुद को क्लीन चिट मिला मानकर आरोपी युवक राजीव महतो,  पिता गोवर्द्धन महतो, छात्रा के चाचा नरेराम महतो  (अब मृत) और छात्रा की मां जानकी महतो के साथ बनकाटी और बड़ा कदाल गांव के सौ ग्रामीणों को बाल विवाह अधिनियम 2006 के तहत मामला दर्ज कर कोर्ट को सौंप दिया है। जहां से सभी आरोपियों के खिलाफ  वारंट निर्गत किया जा चुका है। वहीं दोनों ही परिवार के सदस्यों को राजनगर थाना पुलिस कोर्ट से बेल लेने के लिए दबाव बना रही है।

क्या है पूरा मामलाः बीते साल सरायकेला खरसावां जिला के राजनगर थाना अंतर्गत कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय के कक्षा 9वी की छात्रा गंगा महतो दीपावली की छुट्टियों में अपने गांव बन काटी गई हुई थी, जहां से 10 नवम्बर 2018 को छात्रा अपनी बड़ी बहन के ससुराल बड़ामतैला गई थी।

इसी बीच बड़ा कादल गांव का युवक राजीव महतो ने उसके साथ छेड़खानी किया, जिसकी शिकायत छात्रा ने अपनी बहन-बहनोई से की जिसके बाद छात्रा का बहनोई छात्रा को लेकर उसके गांव पहुंचा।

वहां से छात्रा का चाचा नरेराम महतो (अब मृत) अन्य रिश्तेदार और कुछ ग्रामीण छात्रा को लेकर राजनगर थाना पहुंचे। जहां छात्रा के परिजनों ने पूरे मामले से पुलिस को अवगत कराया। इधर पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए आरोपी युवक को धर दबोचा।

उसे थाने ले जाकर जमकर पिटाई की उसके बाद तत्कालीन एएसआई अनिल ओझा ने युवक से छोड़े जाने के एवज में 25 हजार का डिमांड किया, जिसे युवक के पिता ने धान बेचकर चुकाया और अपने बेटे को छुड़ा लिया।

इधर बदनामी के डर से बचने के लिए छात्रा के चाचा नरेराम महतो (अब मृत) एवं अन्य ग्रामीणों ने थाना प्रभारी से दोनों की शादी करा देने की बात कही। वहीं थाना परिसर में मौजूद मंदिर में ही वरमाला एक दूसरे के गले में डलवा दिया गया।

उसके बाद तत्कालीन थाना प्रभारी यज्ञ नारायण तिवारी  ने  ग्रामीण रीति रिवाज के साथ शादी कराने का फरमान सुना आरोपी युवक को छोड़ दिया। इधर थाना के दबाव में आरोपी युवक ने वरमाला डाल छात्रा के साथ उसके गांव पहुंचा जहां सामाजिक रीति रिवाज के साथ दोनों की शादी करा दी गई।

इधर मामले का खुलासा उस वक्त हुआ जब शादी के बाद छात्रा वापस स्कूल नहीं गई और युवक ने छात्रा को साथ रखने से इंकार कर दिया। इधर पूरे मामले का भेद खुलते ही पूरे प्रशासनिक महकमे में हड़कंप मच गया और सबसे पहले राज्य महिला आयोग सरायकेला पहुंची उसके बाद राज्य बाल संरक्षण आयोग।

इधर किरकिरी होता देख तत्कालीन एसपी चन्दन कुमार सिन्हा ने थाना प्रभारी को लाइन हाजिर कर दिया और एएसआई अनिल ओझा को निलंबित कर दिया था। वहीं जिले के तत्कालीन उपायुक्त छवि रंजन ने राजनगर बीडीओ को मामला दर्ज कराने का निर्देश जारी किया था।

वहीं मामला ठंडा पड़ते ही जिला पुलिस और बाल संरक्षण पदाधिकारी ने सांठगांठ कर पूरे मामले को पेचीदा बनाकर दोनों ही परिवारों को केस में उलझा दिया। अब आलम ये है कि दोनों ही परिवार पर गिरफ्तारी का भय सता रहा है।

वैसे पूरे मामले को जिस तरह से जांच अधिकारियों ने उलझाया है और पुलिस को क्लीन चिट दिया है उससे तो यह साफ हो रहा है कि राज्य सरकार केवल जीरो टॉलरेंस का ढिंढोरा पीट रही है, जमीनी हकीकत आज भी जस का तस बना हुआ है।

Related News:

नालंदा डीएम के आदेश को ढेंगा दिखा चंडी में जारी है फर्जी शिक्षक नियोजन का खेल
 रांची के ओरमांझी में युवक की रातअंधेरे गोली मार हत्या
लालू से मुलाकात तक रांची कोर्ट में घंटो खड़े रहे भाजपा सांसद, लग रहे कयास
चयनित कार्यपालक सहायकों में 193 का हुआ पदास्थापन, देखिए पूर्ण सूची
एक इंटरनेशनल गोल्ड मेडलिस्ट खिलाड़ी, जो दूसरों की खेत में चला रहा हल-कुदाल
सेल चासनाला कोलियरी में फर्जीबाड़ा, अनुकंपा पर दूसरे को दे दी नौकरी
आज यूं नंगा दिखा राजगीर नगर पंचायत का पूरा सिस्टम
बिहारशरीफ अस्पताल मोड़ पर यूं घंटों होती रही गुंडागर्दी और गायब रही पुलिस
किसान भवन में होगा चंडी प्रखंड प्रमुख-उप प्रमुख के भाग्य का फैसला
नालंदा इंजीनियरिंग काॅलेज के छात्रों के बीच हिंसक झड़प, 2 दर्जन घायल
स्कार्पियो सवार 7 शराबी घायल, नालंदा SP ने पहुंचाया अस्पताल !
रघु’राज में महिलाओं के आबरू की फरियाद लिखने वाला कोई नहीं !
देखिये राजगीर SHO को इस मुखिया द्वारा नंगा करती वीडियो
राजद को बड़ा झटकाः 20 साल पुराने सिपहसलार फातमी ने छोड़ी पार्टी
चंडी में देसी दारु के धंधेबाज पूर्व प्रमुख का चाचा धराया
देखिए वीडियोः वनभोज में कैसे जमकर थिरके सीएम
नीतीश सरकार में शिक्षा छू रही बुलंदियांः शिक्षा मंत्री
किसका है घर? यहीं बना था छात्रा की अश्लील वीडियो-तस्वीरें, पुलिस से कैसे बचा है यह चौथा बदमाश!
जदयू नेता हत्याकांड में नपे थाना प्रभारी, एसपी ने किया सस्पेंड
एसडीओ की चाय से हिलसा अनुमंडल पत्रकार संघ में मचा घमासान
राजगीर-बख्तियारपुर रेल खण्ड में शीघ्र दौड़ेगी इलेक्ट्रिक इंजन
सदर अस्पताल के सटे कार्यरत डॉक्टर का चल रहा अवैध क्लिनिक
वसूली का वीडियो वायरल होने के बाद ASI समेत 6 पुलिसकर्मी सस्पेंड
वज्रपात से एक ही गांव के चार लोगों की मौत
बेटी के तिलक से वापस लौट रहे बाप समेत अन्य दो की मौत, 7 जख़्मी
बख्से नहीं जायेगें कामचोर लोग :सांसद निशीकांत दुबे
विभागीय सचिव को झामुमो ने सौंपी रेलवे लाईन पर ओवर ब्रिज स्वीकृति का ज्ञापन
नगरनौसा थानेदार पर बड़ा आरोप, घूस लेकर नहीं की कार्रवाई, इसी से भड़का आक्रोश
डीजीपी की रडारः वसूली करते धराए दारोगा समेत 4 गए जेल, थानेदार सस्पेंड
'ऐसे भांड़ नेता और अफसर पर केस कर उसे जेल में डाले सरकार'
₹20,000 की रिश्वत लेते रंगे हाथ निगरानी के हत्थे चढ़ा हिलसा सीओ
इस बार सरकारी स्तर पर होगा मकर संक्राति मेला का आयोजन
ऑन ड्यूटी नवादा डीएम की जेब यूं काट लिया पॉकेटमार
बीएसएससी पेपर लीक स्कैंडल में फंसे अध्यक्ष IAS सुधीर कुमार संस्पेंड
बिहार शरीफ के अम्बेर चौक पर महिला से 1.5 लाख की दिनदहाड़े लूट
सीएम ने महोत्सव में किया था इस शौचालय का उद्घाटन, अफसरों ने 24 घंटे बाद ही लटका दिया ताला
अपराधियों का तांडव, दो दर्जन वाहनों से लाखों की लूट, तोड़फोड़, मारपीट
अब रिजल्ट को लेकर गुस्से में सीएम का हरनौत, सड़क जाम कर फूंका पुतला, तोड़ी वाहनें
अडानी पावर प्लांट को लेकर बवंडर, लाठीचार्ज के बाद पुलिस ने छोड़े आंसू गैस के गोले
‘अपराधियों के बाद अब पुलिस-प्रशासन के निशाने पर पत्रकार’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...