अब बिहार के CM नीतीश भी CAA तथा NRC के विरोध में उतरे!

अब बिहार के सीएम और जदयू अध्यक्ष नीतीश कुमार ने एनआरसी के खिलाफ बयान दिया है। उन्होंने सोमवार को विधानसभा में कहा कि बिहार में NRC लागू होने का कोई सवाल ही नहीं है। यह असम के संदर्भ में ही चर्चा में था। पीएम नरेंद्र मोदी ने भी इस पर सफाई दी है……”

एक्सपर्ट मीडिया न्यूज डेस्क। इसके पहले देश भर में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) के खिलाफ हो रहे प्रदर्शनों के बीच जदूय के उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर और पार्टी प्रवक्ता पवन वर्मा ने सीएए और एनआरसी का खुलकर विरोध किया है। जबकि पार्टी के सासंदों ने संसद सीएबी के पक्ष में वोट किया था।

गौर हो कि रविवार को प्रशांत किशोर ने ट्वीट कर कांग्रेस कार्य समिति की बैठक में सीएए और एनआरसी के बहिष्कार के फैसले के लिए पार्टी नेतृत्व को विशेष रूप से धन्यवाद दिया था।

उन्होंने इसके लिए राहुल गांधी और प्रियंका गांधी को विशेष धन्यवाद भी दिया और साथ ही आश्वासन दिया कि बिहार में एनपीआर लागू नहीं होगा।

प्रशांत किशोर ने सीएए, एनआरसी और राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर-2020 (एनपीआर) का खुलकर विरोध कर रही कांग्रेस के यूनिवर्सिटी परिसरों में छात्रों पर हमले, आर्थिक मंदी, बेरोजगारी, कृषि संकट और महिला सुरक्षा जैसे जनहित के मुद्दों को लेकर व्यापक जनसंपर्क अभियान चलाने के फैसले पर भी धन्यवाद दिया था।

उधर 4 जनवरी को बीजेपी नेता और बिहार उपसीएम सुशील कुमार मोदी ने कहा था कि प्रदेश में एनपीआर का काम 15 से 28 मई, 2020 के दौरान जनगणना के प्रथम चरण मकान सूचीकरण और मकान गणना के साथ किया जाएगा।

बिहार बीजेपी के प्रवक्ता निखिल आनंद ने प्रशांत किशोर का नाम लिए बिना उनपर कटाक्ष करते हुए कहा कि सीएए पर अति विद्वान और महाज्ञानी प्रोपोगंडा कर रहे हैं। सीएए का विरोध भारत के संघीय व्यवस्था और संविधान दोनों का अपमान है।

आनंद ने आरोप लगाया कि विपक्षी दलों और उनके प्रायोजित कुछ अति विद्वान और महाज्ञानी किस्म के लोग एनआरसी पर अफवाह फैलाने लगे हैं।

हकीकत यह है कि एनआरसी पर केंद्र सरकार ने अभी तक कोई पहल नहीं की है। लोग सिर्फ एनआरसी पर अफवाह फैलाकर भ्रम और डर का माहौल बना रहे हैं ताकि राजनीतिक लाभ ले सकें, लेकिन उनके मंसूबे कामयाब नहीं होंगे।

बिहार में जदयू और बीजेपी गठबंधन की सरकार है। इस साल अक्टूबर में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। दोनों दलों के नेता अक्सर एक दूसरे के खिलाफ तीखे बयान देते रहते हैं।

शायद दोनों पार्टियों के बीच अभी सीट शेयरिंग को लेकर तकरार चल रही है। दोनों अपने को बड़ा भाई बता रहा है। अब देखना है चुनाव में कौन बड़ा भाई बनता है बीजेपी या जदयू।

Related News:

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के आगे ‘कुआं’ पीछे ‘खाई’
बिहार में राक्षस राज,एक तरफ दुर्योधन तो एक तरफ रावण :तेजस्वी
इंदिरा आवास के लिए यूं हाथ-पांव मार रहे हैं पंचायत समिति सदस्य
एसपी का कड़ा एक्शन- पोर्टल के जरिए दो किरायेदारों का ब्यौरा
FFC के FIR से उठे सवाल, चावल घोटाले को दबाने का हो रहा था प्रयास!
नव नालंदा महाविहार प्रबंधन के इस गैर जिम्मेदाराना रवैये से उबले छात्र
₹20,000 की रिश्वत लेते रंगे हाथ निगरानी के हत्थे चढ़ा हिलसा सीओ
पर्यावरण संरक्षण की दिशा में चन्द्रवँशी समाज का यह ऐतिहासिक कदम :श्रवण कुमार
नूतन तिवारी के नाम पर लग सकती है भाजपा की मोहर
चारा घोटालाः बोले स्पेशल जज- CBI की जांच गड़बड़, मनचाहा आरोपी बनाया
पुलिस ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर तबरेज की गिरफ्तारी को बताई थी यूं बड़ी उपलब्धि
शौचालय पर बैठ बच्चें खाते हैं मध्याह्न भोजन!
विकास की 'सौगात' के सहारे फिर जीतने चले नालंदा का दिल
नालंदा में डबल मर्डरः सूचना के बाबजूद पुलिस ने कुख्यात को नहीं पकड़ा !
नालंदा एसपी की इस बड़ी कार्रवाई से बेनकाब हुये मानपुर थानेदार
शौचालय निर्माण में हजार रुपये कमीशन लेते हैं हिलसा बीडीओ,पैक्स अध्यक्ष भी है हिस्सेदार
गुरूजी की 'मस्ती की पाठशाला',शिक्षक मोबाइल में मस्त,बच्चे खेल में मस्त
मधु कोड़ा के 3 साल तक चुनावी रोक से बदला चाईबासा का राजनीतिक समीकरण
उस शिक्षिका को मिल रही सपरिवार प्रताड़ना, जिसने बचाई थी बच्चियों की अस्मत
कपड़ा कारोबारियों के ठिकानों पर आयकर की दबिश
CM ने विधान परिषद में अपने ही MLC की यूँ लगाई क्लास
पटना सदर एसडीओ कुमारी अनुपम सिंह के गार्ड ने खुद को गोली मारी, मौत
भाकपा माओवादियों ने की टीपीसी के दो उग्रवादियों की हत्या
नालंदा के भागन बिगहा थाना क्षेत्र में 2 साल की बच्ची के साथ रेप!
सीएम सात निश्चय योजना में चल रहा कमीशनखोरी का खुला खेल
राजगीर में देखिए इन दिनों कैसा चल रहा है पानी का खेल
😳देखिए नालंदा कॉलेज में कैसे हो रही स्नातक की भ्रष्ट परीक्षा ✍
राजगीर नगर पंचायत चुनाव में जीते 14 नये चेहरे, काफी रोचक होगा मुख्य-उप पार्षद का चयन
पटना जीपीओ में शराब पीते चार डाककर्मी धराये
SSP हरप्रीत कौर की बेबाकी से बैकफूट की ओर MP पप्पू यादव
बिहार आईटी मैनेजर सेवा संघ की बैठक, निर्विरोध अध्यक्ष बने आशीष कुमार, हुए कई अहम निर्णय
पावापुरी महोत्सव को अनुपम बनाने में जुटे प्रभारी डीएम
नीतीश के पीछे पड़ा ‘मर्डर’ का भूत, मामला पहुंचा सुप्रीम कोर्ट
कोर्ट में पेशी के दौरान पुलिस के कब्जे से भागा कैदी, बड़ी मशक्कत बाद धराया
पत्रकारिता एवं जनसंचार में नामंकन की तिथि बढ़ी
अतिक्रमणकारियों ने किया हमला, पुलिस ने भांजी लाठियां, एक हिरासत में
बेटी,पति समेत गर्भवती महिला की पीट-पीट कर हत्या
उबले पुटपाथी दुकानदार, अफसरों की निकाली अर्थी जुलूस, दी गंभीर चेतावनी
भू-माफियाओं के हाथ का यूं खिलौना बने नालंदा जिला परिषद अभियंता !
गृद्धकूट के शर्मनाक गोरखधंधे पर SDO पंगु, DM बोले- होगी कार्रवाई

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...
Loading...